य इमं परमं गुह्यं मद्भक्तेष्वभिधास्यति।
भक्तिं मयि परां कृत्वा मामेवैष्यत्यसंशयः।।
(18.68)
तस्मात्सर्वेषु कालेषु मामनुस्मर युध्य च ।
मय्यर्पितमनोबुद्धिर्मामेवैष्यस्यसंशयः ॥
(8.7)
Previous
Next

Swamiji’s Message

Dear Geeta Premi Friends,

Holistic knowledge of Indian Culture is consolidated in Bhagwad Geeta. The upanishadas are sequel of Vedas and Bhagwad Geeta is zist of upanishadas. Geeta is the beautiful expression of yogic science explained by Lord Shrikrishna himself who is known as Yogeshwar.

That is the reason this Holy book has been translated in many languages across the world. Gandhiji. Lokmanya Tilak, Aurobindo, Savarkar, Chapekar and many other freedom fighters and leaders got inspiration from Geeta and considered it as their true guide.

Obviously even today many people desire to read, recitate, understand and follow Bhagavad Gita. This difficult job in absence of right resources is being made easy by Geeta Pariwar with the help of this web site. We are sure that this portal will serve as a helpful medium to help people to learn and understand Bhagwad Geeta.

Truely yours,
In service of Bharatmata,
Swami Govindadev Giri

प्रिय गीता प्रेमी मित्रों,

भारतीय संस्कृति का समग्र ज्ञान भगवद्गीता में समाहित है। वेदों का विस्तार है उपनिषद और भगवद्गीता उपनिषदों का सार है। योगेश्वर श्रीकृष्ण द्वारा की गई योगशास्त्र की शोभायमान और सुंदर अभिव्यक्ति है भगवद्गीता! यही कारण है कि इस महान ग्रंथ का विश्व की अनेक भाषाओं में अनुवाद किया गया। लोकमान्य तिलक, ऋषि अरविंद, महात्मा गाँधी, वीर सावरकर, चाफेकर बंधु जैसे अनेक क्रांतिकारियों ने भगवद्गीता से प्रेरणा प्राप्त की और इन सभी ने गीता को ही अपना वास्तविक मार्गदर्शक माना।

हजारों वर्षों से भगवद्गीता करोड़ों लोगों के लिए आस्था और जिज्ञासा का केंद्र बना हुआ है। अनगिनत लोग आज भी गीता पढ़ना, समझना और कंठस्थ करना चाहते हैं। लेकिन कैसे करें यह समझ नहीं पाते। कठिन लगने वाले इस कार्य को इस संकेतस्थल अर्थात वेबसाइट के माध्यम से गीता परिवार ने सरल और सुगम कर दिया है।
मुझे विश्वास है कि यह संकेतस्थल हजारों-लाखों लोगों के लिए गीता कंठस्थ करने और समझने का एक उपयोगी माध्यम सिध्द होगा।

भारतमाता की सेवा में..
आपका
स्वामी गोविंददेवगिरि

About Geeta Pariwar

Geeta Pariwar was founded in the year 1986 by HH Swami Shree Govind dev Giriji Maharaj to impart value education among the children.

Geeta Pariwar today has its activities in 21 States and about 5 lakh children are given value education.

॥ गीता पढ़ें, पढ़ायें, जीवन में लायें ॥

Learn Geeta

Read and Learn

All 18 Chapters of the Geeta, Documented

Watch and Learn

Videos Narration of all Chapters of the Geeta

Listen and Learn

Audio Narration with precise pronunciation of the Geeta

Geeta Learning

Learn with us, the pure and correct pronunciation of great scripture Śrīmad-Bhagvadgītā !

॥ गीता पढ़ें, पढ़ायें, जीवन में लायें ॥

Testimonials

Bangalore

I eager to listen all Bhagavad Gita adhyay with hindi meaning.
My spouse Jayshree Sarda has attended last week class of 12/15 adhyay.I feel without sabdartha we may not be able to grasp,and put in to daily life.
.

Sushil Sarda

Mumbai vile parle

आदरणीय गीता परिवार के सभी कार्यकर्ताओं को नमन
गीता का पठन करके बहुत आनंद की अनुभूति हुई ।हमारे उच्चारण शुद्ध हो गये हैं और आगे के अध्याय सीखने की लालसा बढ़ गयी हैं ।
आपकी मेहनत और लगन के हम आभारी हैं । शोभा दीदी ने बड़े संयम के साथ हमें सिखाया ।सबको बहुत बहुत धन्यवाद ।??????

Kiran Karwa

Aurangabad

It’s is wonderful task that you all are performing to bring awareness among people.This can the world, a better place to live….My son is really happy to learn Bhagwad Geeta and has an ambition to learn complete Bhagwad Geeta. Jai shri krishna.

Neev Amit Baldawa

Hyderabad

I cannot express in words my feelings. The hard work they have put in has made learning Bhagwad Geeta so much easy that we cannot imagine. The teaching methodology, the work sheets that Geeta pariwar has prepared, the videos, the short clips of each Shlok, the lead and follow method of teaching et al everything is amazing. One has to join and experience it to believe it. I am blessed to be a part of this learning.

Ajay Kumar Sonthalia

Jalna, (maharashtra)

जय श्री कृष्णा ,गीता परिवार द्वारा जो गीता संता वर्ग चलाया गया है यह बहुत ही स्तुत्य उपक्रम है, इस उपक्रम की वजह से हम जैसे प्रशिक्षणार्थियों को घर बैठे ही निशुल्क, सही संस्कृत उच्चारण के साथ गीता का 12 वां और 15 वा अध्याय सीखने को मिला। इतने बड़े ग्रुप को सिखाना कोई आसान काम नहीं था, पर रोहन गुरु जी ने हमें बहुत पेशेंस के साथ गीता का पाठ सिखाया। साथी झुम को ऑपरेट करने वाली टीम ने बहुत ही अच्छे से झुम मीटिंग हैंडल की। सप्ताहिक गीता विवेचन की कोई तोड़ी ही नहीं। भाई संजय जी मालपानी के साथ ही गीता परिवार के सभी सदस्यों को मन पूर्वक पुन्श्रच धन्यवाद देती हूं। ईश्वर उन्हें ऐसे ही कार्यक्रम करने की प्रेरणा दें और उसमें यश प्रदान करें यह प्रार्थना करती हु।

Nirmala Pradeepkumar Laddha

Sangamner

गीता गुंजन चा उपक्रम फारच अद्भुत आणि मनपरिवर्तन करणारा आहे. यामुळे अवघड न वाचता येणारे संस्कृत हे खरोखरच खूप सोपे वाटायला लागले. अगदी अ पासुन ते ज्ञ पर्यंत आधी स्वर व्यंजन समजावून सांगणे नंतर त्यांचा वापर आणि उभी आडवी शब्दांची मांडणी कशी असते हे सतत समजावून सांगणे. खरोखरच खूप छान. हया उपक्रमातील सर्वच गुरुजन खूप मेहनत घेत आहेत आणि गीता आमच्यापर्यंत घेऊन येत आहेत. शिकवताना स्पष्ट उच्चारांकडे जास्तीत जास्त बारकाईने लक्ष देणे, श्लोकांची चाल, लय हे अगदी निःस्वार्थ भावनेने घेत आहेत. गीतेमधील श्लोक कंठस्त झाल्यानंतर अध्याय बोलणे अगदी सोपे वाटते आणि स्वतःवर गर्व देखील की माझा पूर्ण अध्याय पाठ झाला. आणि त्यामुळे गीतेचा अर्थ ही पटकन समजतो. गीता परिवाराचे खरंच खूप धन्यवाद.

Smita Bodake

Pune

जय श्रीकृष्ण! गीता परिवार को मेरा हार्दिक अभिनंदन जिन्होंने श्रीमद्भगवद्गीता को जन जन को बहुत ही सरल और प्रेम भाव से सिखाने का कार्य आरंभ किया l श्री कृष्ण के श्री मुख की वाणी सिखना बहुत ही सौभाग्य है l श्री भगवान का सिखाया जीवन और आत्मा का ज्ञान सब तक पहुंचाना परम भक्ति है (वह भी निशुल्क) l शिक्षकों की प्रशंसा में शब्द कम है, जो बहुत ही मधुर वाणी, धैर्य और भक्ति भाव से गीता सिखाते हैं l बहुत-बहुत धन्यवाद l प्रणाम l

Hemlatha Maniyar

Ahmedabad, Gujarat

i really appreciate this thoughtfulness to provide us a “bhagwad gita”s knowledge . Thanks a lot to whole “Gita Pariwar” for your sharing of knowledge with which you actually benefited so many other people around in society. God bless you all.. Jayshree krishna

Paragi desai

North Carolina USA

Jai Shri Krishna!
I feel so lucky and blessed to have joined Geeta Pariwar for learning Geeta chanting with correct pronunciation.
It’s a wonderful team who guide us everyday with 40 minutes of pronunciation sessions from Monday to Saturday and we also get to hear the meaning and how to implement Geeta in our daily lives on Saturdays from the other senior brothers and sisters.
In this commercial world, the Geeta Pariwar is the only place(team) where they teach Geeta for free of cost with lots of patience and bhakti .

Kavitha Balasubramannian

पुणे

गीता परिवाराचे मनःपुर्वक धन्यवाद !
खूप छान संयोजन आणि प्रशिक्षण दिल्याबद्दल मनापासून आभार!!
सर्व प्रशिक्षक आणि कार्यकर्त्यांचे मनापासून धन्यवाद!
तुमच्या सगळ्यांच्या मुळे आम्हाला ही सुवर्ण संधी मिळाली! खरच खूप छान अनुभव मिळाला.
????

गौरी स्वप्निल ठाकूर

Parli vaijnath

मै 10 हू मम्मी के कहने पर मैंने 12 ,15वा अध्याय सिखा मुझे बहुत अच्छा लगा मम्मी को गीता जिगयासु मिल गया है ।मै भी आगे सीख रही हू।2 महीने से घर में गीता की ही आवाज गुंज रही है। आप सभी का धन्यवाद। बहुत अच्छा लगा रहा है

Palak shrikant jaju